दशहरा उत्सव व दीक्षांत समारोह में अतिथि नहीं बनाने की जांच नहीं करेगी समिति

बिलासपुर । प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा गठित जांच समिति अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह एवं नगर निगम के दशहरा उत्सव कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विवाद मामले की जांच नहीं करेगी । कांग्रेस की जांच टीम के सदस्यों ने साफतौर पर कहा है कि विश्वविद्यालय व नगर निगम शासन के संस्थान हैं , वे इसकी । जांच नहीं कर सकते हैं , इस बात से प्रदेश कांग्रेस कमेटी को अवगत करा दिया जाएगा । 

वहीं मुख्यमंत्री को अपशब्द मामले में जांच टीम के सदस्य जिला प्रभारी मोतीलाल देवांगन व शहर प्रभारी मंजू सिंह ने शुक्रवार को प्रदेश सचिव महेश दुबे और प्रदेश प्रवक्ता अभयनारायण से पूछताछ की । एक तरफ शहर में नगरीय निकाय चुनाव की सरगर्मी बनी हुई है और टिकट के लिए रायशुमारी की प्रक्रिया चल रही है । 

इसी बीच मुख्यमंत्री को अपशब्द कहे जाने मामले में जांच के लिए प्रदेश कांग्रेस से नियुक्त जांच टीम के पहुंचने से कांग्रेस भवन में आज राजनीति गरमाई रही । प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया शनिवार को छत्तीसगढ़ के दौरे पर पहुंच रहे हैं , श्री पुनिया ने ही इस मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम को मामले के संबंध में जांच के निर्देश दिए थे , इसलिए श्री पुनिया छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान इस मामले की जांच के बारे जानकारी जरूर लेंगे , इसी के मद्देनजर जांच टीम दोबारा शहर में जांच के लिए आज पहुंची । 

जांच टीम सदस्य मोतीलाल देवांगन व मंजू सिंह ने जांच के बिन्दुओं में दो मामलों में जांच करने से असमर्थतता जता दी है । जांच टीम सदस्य मंजू सिंह ने चर्चा दौरान कहा है कि बिलासपुर के अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह एवं दशहरा कार्यक्रम में मुख्य आतिथ्य के विवाद मामले की जांच नहीं की जाएगी । उन्होंने बताया कि नगर निगम और विश्वविद्यालय दोनों ही शासन के संस्थान हैं और शासन के मामले में हम संगठन के लोग कैसे जांच कर सकते हैं । 

उनका कहना है कि जांच टीम इस बात से प्रदेश कांग्रेस कमेटी को अवगत करा देगी । जांच टीम सदस्य मंजू सिंह व मोलीलाल देवांगन ने बताया कि छठ कार्यक्रम दौरान प्रदेश सचिव महेश दुबे द्वारा मुख्यमंत्री एव क्षेत्रीय विधायकों के खिलाफ अपशब्द कहने के मामले में आज महेश दुबे और प्रदेश प्रवक्ता अभयनारायण राय से पछताछ हुई है । 

वहीं दोनों विधायकों के विधानसभा सत्र में होने के कारण उनसे इस विषय में चर्चा नहीं हो पाई है । दोनों विधायकों से भी पूछताछ के बाद ही जांच रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सौंपी जाएगी ।

Comments